Romance

Advertisements
  • दहकते पलाश …

    कुछ मोहब्बतें वक्त की मोहताज नही होतीं…


  • वो सात दिन …. एक प्रेम कहानी

    प्यार में ज़रा सी दूरियां भी हैं ज़रूरी….


  • संस्कारी बहु

    उन्होंने यामिनी को ऊपर से नीचे तक देखा, नीचे से उपर तक देखा, पूरी नज़र से देखा….


  • उधेड़बुन

    एक छोटी सी प्रेम कहानी


  • जीवनसंगिनी

         आज आंसू हैं की रुकने का नाम ही नही ले रहे,पर उन्हें आंखों मे रोके रहना मजबूरी है,बहुत नज़ाकत से हल्के हाथों से ही टिशू से आँखो की कोर पोंछ रही हूँ ।     “मानसी no dear ,plz don’t spoil,..पूरा मेकप खराब हो जायेगा।”   मेरी ब्युटिशियन ,मेरी सखियाँ,सभी समझा रही मुझे,की अपनी शादी के दिन … “जीवनसंगिनी”पढ़ना जारी रखें


  •  इतिहास

    मैं छोटी थी उस समय ,उमर तो याद नही पर शायद नौ या आठ बरस की रही होंगी।     मेरे घर की छत से लगी छत थी उनकी,उनके घर के अमरूद मेरी छत पर झांकते थे और मेरे घर के गुलमोहर उनकी बालकनी पर….. रोजाना शाम में मैं उनकी बातें सुनने कभी उनकी कहानियां सुनने छत … ” इतिहास”पढ़ना जारी रखें


Advertisements